Blog
सिमेज कॉलेज में छात्रों को दिया गया ‘दावत-ए-इफ्तार’

सिमेज कॉलेज में छात्रों को दिया गया ‘दावत-ए-इफ्तार’

‘सिमेज कॉलेज’ मे माह-ए-रमजान के पवित्र मौके पर अकलियत के छात्रों के लिए अलविदा जुमा से पहले  एक इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया, जिसमे बड़ी संख्या मे रोजेदार छात्रों के साथ साथ अन्य छात्रों ने भाग लिया | कार्यक्रम के बारे मे बताते हुए सिमेज के निदेशक नीरज अग्रवाल ने बताया कि सिमेज कॉलेज मे छात्र सभी त्यौहार मिलजुलकर मनाते हैं | उन्होंने बताया कि इस तरह के कार्यक्रमों एवं आयोजनों से सामाजिक सद्भाव को भी बढ़ावा मिलता है | उन्होंने कहा कि रोज़ा का मकसद सिर्फ भूखा रहना ही नहीं है, हर बुराई से बचना तथा गरीबों एवं भूखों का दर्द भी समझना है | यह जीवन मे सादगी के महत्व को भी प्रदर्शित करता है | उन्होंने कहा कि अमन व शांति का सन्देश देने वाली पवित्र किताब कुरान भी इसी महीने मे नाज़िल हुई थी | उन्होंने इस अवसर पर सभी छात्रों को माह-ए-रमजान तथा आने वाले ईद की मुबारकबाद दी एवं सभी ने साथ मिलकर देश मे अमन-ओ-चैन एवं तरक्की की दुआ की |

‘दावत-ए-इफ्तार’ का आयोजन सिमेज कॉलेज की मुख्य शाखा मे शाम 5:30 बजे से किया गया था | कार्यक्रम के शुरू मे तकरीर करते हुए इस्लामिक विद्वान मौलाना शकील साहब – ईमाम, गोलघर, पटना  ने छात्रों को रमजान महीने के महत्व से अवगत कराया | उन्होंने छात्रों को जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि ‘यह अल्लाह की रहमतों और बरकतों का महीना है | रमजान इस्लामी कैलेंडर का नवां महीना हैं | इस माह मे खुदा बन्दों पर रहमतों की बारिश करता है | वहीँ इबादत के ज़रिये इंसान खुदा को खुश करने की कोशिश करता है | उन्होंने रमजान के महत्व का ज़िक्र करते हुए कहा कि पैगम्बर हज़रत मुहम्मद (सल.) का कथन है कि ‘अगर लोगों को मालूम हो जाये कि रमजान क्या चीज़ है तो मेरी उम्मत यह तमन्ना करेगी कि पूरा साल रमजान ही रहे |’

तकरीर के पश्चात रोजेदार छात्रों ने ‘शाही खजूर तथा शर्बत’ से अपने रोज़े को तोड़ा | इस अवसर पर सिमेज कॉलेज की तरफ से समस्त रोजेदार छात्रों तथा अन्य के लिए बकरखानी, भुने चने, भुना-चुडा तथा मूंगफली, बेसन के पकौड़े, बैंगन के पकौड़े, जलेबी, इमरती, शिकंजी तथा अन्य मिष्ठानों की व्यवस्था की गई थी |

सिमेज कॉलेज के छात्र इस अवसर पर काफी उत्साहित दिखे | छात्रों ने गले मिलकर अपने मित्रों को रमजान की मुबारकबाद दी | इस अवसर पर सेंटर हेड मेघा अग्रवाल, डीन नीरज पोद्दार, एकेडमिक हेड डा. प्रो. अखिलेश्वर प्रसाद तथा अन्य शिक्षकगण भी उपस्थित थे |

धन्यवाद सहित |

नीरज अग्रवाल

निदेशक, सिमेज कॉलेज,

पटना |